झारखंड में ओमिक्रॉन का तीसरा संदिग्ध मरीज मिला

रांची। झारखंड में कोरोना का कहर अभी कम नहीं हुआ है और नए वैरिएंट ओमीक्रोन ने भी दस्तक दे दी है। रांची स्थित रिम्स में ओमीक्रोन के एक संदिग्ध मरीज को भर्ती कराया गया है।

रविवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे कोरोना पॉजिटिव महिला को न्यू ट्रामा सेंटर में लाया गया। महिला केरल से आई है। फिलहाल वह रांची के गोंदलीपोखर में रह रही थी। महिला की उम्र करीब 50 वर्ष है।

कोरोना के नए वैरिएंट का पता लगाने के लिए डॉक्टरों ने महिला के सैंपल को जिनोम सिक्वेसिंग के लिए भेजने की सिफारिश की है। इस पर अंतिम फैसला रिम्स प्रबंधन को लेना है। इसके पहले भी अस्पताल में दो संदिग्ध मरीजों काे भर्ती किया गया था। अब तक इस तरह के संदिग्ध मरीजों की संख्या तीन हो गई है।

ट्रामा सेंटर के इंचार्ज डॉ. प्रदीप भट्टाचार्या ने बताया कि महिला को संदिग्ध मरीज मानते हुए सभी जरूरी जांच की जा रही है। महिला में मिले कोरोना के वैरिएंट का पता लगाने के लिए जिनोम सिक्वेसिंग की आवश्यकता है। इस बारे में सैंपल जांच के लिए भेजने पर अंतिम निर्णय अस्पताल प्रबंधन को लेना है। वहीं रिम्स के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. डीके सिन्हा ने बताया कि ओमिक्रॉन के संदिग्ध मरीज को भर्ती करने की जानकारी प्राप्त हुई है। इस बारे में ट्रामा सेंटर की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

Comments are closed.