प्रधानमंत्री मोदी आज संगम नगरी से देंगे महिला सशक्तिकरण का संदेश

-महिला स्वयं सहायता समूहों के खातों में एक हजार करोड़ ट्रांसफर करेंगे प्रधानमंत्री
-कन्या सुमंगला योजना के तहत वितरित होगी 20.20 करोड़ की धनराशि
-स्वयं सहायता समूहों की 202 पुष्टाहार उत्पादन इकाइयों की रखेंगे आधारशिला
-20 हजार बीसी सखियों को मिलेगी चार-चार हजार रुपये मानदेय की सौगात

प्रयागराज। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को संगम नगरी प्रयागराज से पूरे देश को महिला सशक्तिकरण और आत्मनिर्भरता का संदेश देंगे। वह उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं, बैंकिंग कारेस्पांडेंट सखी, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लाभार्थियों और स्वयं सहायता समूहों की तरफ से संचालित पुष्टाहार उत्पादन इकाइयों को करोड़ों रुपयों की सौगात देंगे। साथ ही मातृशक्ति से संवाद कर उन्हें सफलता के लिए प्रेरित भी करेंगे।

महिलाओं के स्वावलंबन और आत्मनिर्भरता के दृष्टिकोण से आज 21 दिसम्बर का दिन न सिर्फ उत्तर प्रदेश बल्कि पूरे देश के इतिहास में स्वर्णाध्यायी होने जा रहा है। संगम की रेती पर आज करीब तीन लाख महिलाओं का जमावड़ा होगा। प्रधानमंत्री मोदी 1.60 लाख स्वयं सहायता समूहों के खातों में एक हजार करोड़ रुपये अंतरित करेंगे। इन समूहों को मिलने वाली इस रकम से करीब 16 लाख महिलाएं सीधे लाभान्वित होंगी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री महिला स्वयं सहायता समूहों की तरफ से संचालित 202 पुष्टाहार उत्पादन इकाइयों की आधारशिला भी रखेंगे। प्रयागराज के इस कार्यक्रम में वह एक लाख एक हजार लाभार्थियों को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत 20.20 करोड़ रुपये की धनराशि भी उनके बैंक खातों में अंतरित करेंगे।

इसके अलावा प्रधानमंत्री के हाथों 80 हजार स्वयं सहायता समूहों को प्रति समूह 1.10 लाख रुपये की दर से 880 करोड़ रुपये का कम्युनिटी इनवेस्टमेंट फंड (सीआईएफ) भी मिलेगा। साथ ही 60 हजार स्वयं सहायता समूहों को प्रति समूह 15 हजार रुपये की दर से कुल 120 करोड़ रुपये प्रदान किए जाएंगे।

एक पुष्टाहार उत्पादन इकाई की लागत एक करोड़
राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री महिला स्वयं सहायता समूहों की तरफ से संचालित होने वाले जिन 202 पुष्टाहार उत्पादन इकाइयों का शिलान्यास करेंगे, उनमें से हर इकाई की स्थापना पर एक करोड़ रुपये की लागत आएगी। इन इकाइयों के जरिये चार हजार महिलाओं को सीधे रोजगार सुलभ होगा। ये इकाइयां इंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलपमेंट स्कीम (आईसीडीएस) के तहत प्रदेश के 600 ब्लाकों में सहायक पुष्टाहार सामग्री का वितरण करेंगी।

10.93 लाख हो जाएगी कन्या सुमंगला योजना के लाभार्थियों की संख्या
प्रवक्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री प्रयागराज में 1.01 लाख लाभार्थियों के बैंक खातों में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत 20.20 करोड़ रुपये की धनराशि अंतरित करेंगे। यह योजना कन्या के जन्म से लेकर उसकी उच्च शिक्षा तक समयानुकुल धनराशि की व्यवस्था के लिए लागू है। इसके तहत सरकार कुल 15 हजार रुपये देती है। प्रधानमंत्री द्वारा 1.01 लाख लाभार्थियों को धनराशि अंतरित करने के साथ ही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लाभार्थियों की संख्या 9.92 लाख से बढकर 10.93 लाख हो जाएगी।

बीसी सखी को चार हजार रुपये मानदेय की सौगात
सरकारी प्रवक्ता के अनुसार गांवों में महिला स्वावलंबन और वित्तीय साक्षरता को बढावा देने के लिए योगी सरकार की बैंकिंग कारेस्पांडेंट (बीसी) सखी योजना आत्मनिर्भरता की भी नई इबारत लिख रही है। प्रयागराज के कार्यक्रम में पीएम मोदी प्रदेश की 20 हजार बीसी सखी को चार-चार हजार रुपये मानदेय की सौगात देंगे। यह धनराशि उनके बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी। प्रदेश सरकार का लक्ष्य राज्य के 58189 ग्राम पंचायतों में बीसी सखी की नियुक्ति की है। अब तक 56875 बीसी सखियों का चयन किया जा चुका है। इनमें से 38341 के प्रशिक्षण का कार्य भी पूर्ण हो चुका है।

कुछ महिलाओं से संवाद भी करेंगे प्रधानमंत्री
कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी कुछ महिलाओं से संवाद भी करेंगे। इसके लिए प्रदेश के विभिन्न जिलों से महिलाओं का चयन किया गया है। जिन महिलाओं से प्रधानमंत्री का विशेष संवाद होगा, उनमें सर्वाधिक महिलाएं फतेहपुर की हैं। ये महिलाएं एक ही स्वयं सहायता समूह की हैं, जो टेक होम राशन का प्लांट चला रही हैं। कन्या सुमंगला योजना की 25 लाभार्थियों का भी चयन प्रधानमंत्री से संवाद के लिए हुआ है।

डाक्यूमेंट्री में महिलाओं के संघर्ष की कहानी भी देखेंगे मोदी
प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम में महिला सशक्तीकरण की मिसाल बन चुकी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं की संघर्ष और सफलता की कहानी पर बनी एक डाक्यूमेंट्री का भी प्रदर्शन होगा। करीब सवा चार मिनट के इस वीडियो को मोदी के अलावा वहां उपस्थित सभी लोगों को दिखाया जाएगा।

प्रदेश की सभी महिला सांसद भी कार्यक्रम में होंगी शामिल
प्रयागराज की सांसद डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि महिला सशक्तिकरण को लेकर संगम नगरी में हो रहे इस कार्यक्रम में प्रदेश की सभी महिला सांसदों को भी प्रधानमंत्री मोदी के साथ मंच साझा करने का अवसर मिलेगा। इनमें केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजना ज्योति एवं सांसदों में मेनका गांधी, हेमा मालिनी, केशरी देवी पटेल और रेखा वर्मा के नाम शामिल हैं।

प्रयागराज में करीब दो घंटे रहेंगे प्रधानमंत्री
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज तीर्थराज प्रयाग में करीब दो घंटे रहेंगे। एक विशेष विमान से वह अपराह्न 12.45 बजे बमरौली हवाई अड्डे पर पहुंचेंगे और वहां से सीधे संगम के पास परेड मैंदान स्थित कार्यक्रम स्थल जाएंगे। अपराह्न करीब 2.45 बजे प्रधानमंत्री दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। संगम नगरी की यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री गंगा पूजन भी कर सकते हैं। इस संभावना के मद्देनजर जिला प्रशासन ने पवित्र संगम तट पर पूरी व्यवस्था पहले से ही तैयार कर रखी है। वहां 60 फिट लंबी और 12 फिट चैड़ी एक जेटी तैयार की गई है। साथ ही पूजा के लिए पर्याप्त मात्रा में दूध, फल, फूल आदि की पूरी व्यवस्था है।

Comments are closed.