सीडीएस रावत और उनकी पत्नी मधुलिका को दी गयी अंतिम विदाई

– देश के तमाम नेताओं और विदेशी सैन्य बलों के अधिकारियों ने पुष्पांजलि अर्पित की
– रावत दम्पति की बेटियों कृतिका, तारिनी और अन्य परिजनों ने फफकते हुए श्रद्धांजलि दी

नई दिल्ली। तमिलनाडु हेलीकॉप्टर क्रैश में जान गंवाने वाले भारतीय सैन्य बलों के पहले प्रमुख सीडीएस बिपिन रावत समेत सभी 13 लोगों को आज अंतिम विदाई दी गई। जनरल बिपिन रावत का पार्थिव शरीर शुक्रवार को बेस हॉस्पिटल से उनके आवास लाया गया। सीडीएस बिपिन रावत और मधुलिका रावत को उनकी बेटियों कृतिका और तारिनी ने फफकते हुए श्रद्धांजलि दी। इसके बाद देश के तमाम नेताओं से लगाकर विदेशी सैन्य बलों के अधिकारियों ने पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद दोपहर 2 बजे के बाद जनरल रावत की अंतिम यात्रा बरार स्क्वायर श्मशान घाट के लिए रवाना हुई।

तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में दिवंगत सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत के पार्थिव शरीर को आज सुबह बेस हॉस्पिटल से उनके कामराज मार्ग स्थित सरकारी आवास पर लाया गया। सुबह से ही जनरल रावत और उनकी पत्नी मधुलिका को श्रद्धांजलि देने का क्रम शुरू हो गया। सबसे पहले रावत दम्पति की बेटियों कृतिका, तारिनी और अन्य परिजनों ने फफकते हुए श्रद्धांजलि दी। इसके बाद दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर, गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, मनसुख मंडाविया, स्मृति ईरानी और सर्बानंद सोनोवाल ने उनके आवास पर श्रद्धांजलि दी।

भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश सिंह रावत, भारतीय किसान संघ (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत, द्रमुक नेता ए राजा और कनिमोझी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी पुष्पांजलि अर्पित करने के लिए पहुंचे। जनरल रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत को अंतिम श्रद्धांजलि देते हुए धार्मिक नेताओं ने बहु-विश्वास प्रार्थना की।

श्रीलंकाई रक्षा महासचिव कमल गुणरत्ने, उनके स्टाफ और सशस्त्र बलों के सभी सदस्यों ने भारतीय सशस्त्र बलों के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और श्रीमती मधुलिका रावत की दुखद मौत पर अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त की। ईरानी सशस्त्र बलों के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर-जनरल मोहम्मद बघेरी ने सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 रक्षा अधिकारियों की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है। जनरल बिपिन रावत को विभिन्न देशों के सैन्य दस्तों ने भी श्रद्धांजलि दी। भारत में फ्रांसीसी दूत इमैनुएल लेनियन और इज़राइल के दूत नाओर गिलोन ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत को पुष्पांजलि अर्पित की।

Comments are closed.