मथुरा एक्सप्रेस-वे पर हदसा, मध्यप्रदेश के तीन पुलिसकर्मी समेत पांच की मौत

– आरोपित को पकड़ने के लिए दबिश देने जा रही थी पुलिस

मथुरा । यमुना एक्सप्रेस-वे के माइलस्टोन 80 के पास शुक्रवार सुबह एक सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में तीन पुलिसकर्मी समेत पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि एक महिला सहित तीन लोग घायल हैं। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस अधीक्षक देहात श्रीश चन्द्र ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के थाना बुडेरा क्षेत्र से एक किशोरी को पिंटू नाम का युवक बहला-फुसलाकर भगा ले गया था। पुलिस उसकी तलाश में थी। शुक्रवार को उसकी लोकेशन मध्यप्रदेश पुलिस को हरियाणा के बहादुरगढ़ में मिली।आरोपित पिंटू की गिरफ्तारी के लिए थाना बुडेरा में तैनात हेड कांस्टेबल भवानी प्रसाद, कांस्टेबल धर्मेन्द्र, कमलेन्द्र यादव और महिला कांस्टेबल हीरा देवी बहादुर गढ़ जा रहे थे। साथ में आरोपित युवक की ललितपुर जनपद निवासी बहन प्रीति, उसके पति रतिराम, उसका साला रवि और एक निजी चालक बुडेरा निवासी जगदीश बोलेरो कार में सवार थे।

थाना सुरीर क्षेत्र के यमुना एक्सप्रेस-वे के माइलस्टोन 80 के पास पुलिया से टकराकर बेकाबू हुई बोलेरो दो हिस्सों में बंट गई। सड़क हादसे में भवानी प्रसाद, कांस्टेबल हीरादेवी, चालक जगदीश, रवि और कमलेंद्र यादव की मौत हो गई। जबकि अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है। सूचना पर पहुंची सुरीर पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर घायलों को इलाज के लिए लाइफ लाइन हास्पिटल भेजा है।

हादसे के बाद यमुना एक्सप्रेस-वे की एक लाइन वाहनों की कतार से जाम हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने क्रेन की मदद से क्षतिग्रस्त बोलेरो को हटाया और रास्ते को सुचारु कराया।a

Comments are closed.