नेशनल शूटर कोनिका की मौत से कोयलांचल स्तब्ध, जांच की मांग

धनबाद। नेशनल शूटर कोनिका लायक की रहस्यमय परिस्थितियों में कोलकाता में मौत हो गई। कोनिका की मौत की खबर से पूरा कोयलांचल स्तब्ध है। किसी को विश्वास नहीं हो रहा है कि कोनिका अब इस दुनिया में नहीं रही। धनबाद के धनसारी स्थित उनके आवास में ताला लगा हुआ है। उनके माता-पिता और परिजन कोलकाता चले गए हैं। पूरा मोहल्ला गमगीन है।

फिलहाल कोनिका के घर पर ताला लगा हुआ है। कई पड़ोसी उनके घर के बाहर गमगीन होकर खड़े दिखे। पड़ोसी प्रभात सुरोलिया ने बताया कि कोनिका जैसी हिम्मत वाली लड़की आत्महत्या जैसा कदम नहीं उठा सकती। उन्होंने मामले की जांच कराने की मांग की है। लोगों का कहना है कि वह बिल्कुल ही निडर और साहसी लड़की थी। उसका मात्र एक ही सपना ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतना था और अपने कोयलांचल के साथ-साथ पूरे देश का नाम रोशन करना था।

कोनिका एक मध्यम वर्गीय परिवार की लड़की थी, जो गोविंदपुर प्रखंड के नगरकीयारी गांव की रहने वाली थी। वर्तमान में कोनिका का परिवार धनबाद जिले के धनसार स्थित अनुग्रह नगर में रहते हैं। गांव से शहर आकर कोनिका ने झारखंड के लिए कई गोल्ड जीता था। कोनिका ने साल 2014 से निशानेबाजी की शुरुआत की थी। उन्होंने बस्ताकोला में शूटिंग की प्रैक्टिस से अपनी जिंदगी की शुरुआत किया था।

मध्यम वर्ग से आने वाली कोनिका धनबाद के धनसार में परिवार के साथ रहकर दोस्तों से राइफल उधार में लेकर शूटिंग की तैयारी कर रही थीं। कठिन परिश्रम की बदौलत राष्ट्रीय स्तर पर कोनिका का चयन हो गया था लेकिन उनके पास राइफल नहीं था। धनबाद के लोगों ने अभिनेता सोनू सूद को ट्वीट कर मदद की गुहार लगाई थी। इसके बाद कई गणमान्य लोगों ने भी कोनिका को मदद पहुंचाई थी। वहीं, 24 जून को अभिनेता सोनू सूद ने उन्हें जर्मन राइफल भिजवाया था। इसके बाद वो काफी खुश थीं। कोनिका अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परचम लहराना चाहती थी। कोनिका की शादी भी तय हो गई थी और फरवरी में उसकी शादी होनी थी। घर में शादी की तैयारियां भी शुरू हो चुकी थी। वर्तमान में कोनिका कोलकाता के बाली में रहकर जयदीप कर्मकार शूटिंग अकादमी में प्रशिक्षण ले रही थी। तीन दिन पहले ही उसकी मां कोलकाता में उससे मुलाकात कर वापस धनबाद लौटी थी।

Comments are closed.