झारखंड में जल्द बनेगी बेहतर स्पोर्ट्स पॉलिसी : हेमंत सोरेन

रांची। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज कहा कि झारखंड के खिलाड़ियों को बेहतर प्लेटफार्म उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार कटिबद्ध है। राज्य में जल्द स्पोर्ट्स पॉलिसी बनाई जाएगी। सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के भी युवक-युवतियों के हुनर को तराशने का काम राज्य सरकार कर रही है। वह मुख्यमंत्री आमंत्रण राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता-2021 के समापन समारोह को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को खेल के क्षेत्र में अधिक से अधिक मौका मिल सके, इस निमित्त नई खेल पॉलिसी का गठन किया जाएगा। मुख्यमंत्री आमंत्रण राज्य स्तरीय प्रतियोगिता-2021 का आयोजन एक नई सोच और प्रयोग के साथ किया गया है। खेल की दिशा में राज्य सरकार बेहतर करने का प्रयास कर रही है। राज्य के विकास में खेल रीढ़ का हड्डी बन सकता है। राज्य में खेल के विकास के लिए ‘सहाय’ योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत फुटबॉल, हॉकी, एथलेटिक्स और वॉलीबॉल को बढ़ावा मिल रहा है। हमारी सरकार का प्रयास है कि राज्य के नौजवान वर्ग एवं छात्र-छात्राएं खेल के माध्यम से अपना कैरियर बना सके तथा राज्य का नाम विश्व में रोशन कर सकें। मुख्यमंत्री सोमवार को बिरसा मुंडा एथलेटिक स्टेडियम, मेगा स्पोर्ट्स कांप्लेक्स होटवार रांची में आयोजित मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल प्रतियोगिता-2021 के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे।

राज्य में युवा वर्ग के हुनर और क्षमता को तराशने का हो रहा प्रयास

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड के कई खिलाड़ियों ने अपने हुनर का लोहा मनवाते हुए देश और दुनिया में अपनी पहचान बनाई है। यहां के कई खिलाड़ियों ने विभिन्न खेलों में देश के लिए कप्तानी भी की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां के खिलाड़ियों के हुनर और क्षमता को प्लेटफॉर्म देकर उनका मार्ग प्रशस्त करना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री आमंत्रण राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन विगत एक माह पूर्व से ही किया गया था। यह फुटबॉल प्रतियोगिता पूरे राज्य भर में उत्साह और उमंग के साथ आयोजित हुआ है। आज यहां इस प्रतियोगिता का समापन हो रहा है। राज्य स्तरीय इस प्रतियोगिता में लगभग डेढ़ लाख बच्चों ने हिस्सा लिया है। राज्य में यह पहला मौका है, जब इतनी बड़ी संख्या में हमारे बच्चे ऐसे खेल आयोजन से जुड़े हैं। इस प्रतियोगिता से खिलाड़ियों में उत्साह जगी है और कई खिलाड़ी उभर कर सामने भी आए हैं। यह राज्य के लिए एक अच्छा संकेत है। राज्य में अन्य खेलों के साथ फुटबॉल खेल एवं खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास किया जा रहा है।

राज्य के विकास में खेल और खिलाड़ियों की भूमिका अहम

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार आने वाले दिनों में खेल से संबंधित कई प्रतियोगिताओं का बड़ा आयोजन भी करेगी। सरकार विभिन्न खेलों में हुनरमंद बच्चों को तलाशने का काम कर रही है। झारखंड के सर्वांगीण विकास में यहां के खिलाड़ियों की भूमिका महत्वपूर्ण है अतएव आप सभी प्रतिभागी अपना पूरा योगदान दें। मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री आमंत्रण राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता के फाइनल मैच के बालिका वर्ग के विजेता पूर्वी सिंहभूम की टीम तथा बालक वर्ग के विजेता पूर्वी सिंहभूम की टीम को शुभकामनाएं एवं बधाई देते हुए कहा कि दोनों ही वर्गों में पूर्वी सिंहभूम की टीमें विजयी हुई हैं। यह पूर्वी सिंहभूम के बालक-बालिका वर्ग के जोश और जज्बा दर्शाता है।

मुख्यमंत्री ने बालिका वर्ग की रनर टीम रामगढ़ एवं बालक वर्ग के रनर टीम रांची को भी शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह तो शुरुआत है आगे मंजिलें अभी बहुत हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत एक महीने से आयोजित इस टूर्नामेंट की गतिविधियां खुशी देने वाली रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में जितने भी युवक-युतियां प्रतिभागी रहे हैं तथा वैसे बच्चे जो टीम मैनेजमेंट के साथ थे, उन सभी को मैं शुभकामनाएं देता हूं। आने वाले दिनों में राज्य के नौजवानों, छात्र-छात्राओं का दायरा खेल के क्षेत्र में और अधिक बढ़ सके, इस निमित्त प्रतिबद्धता के साथ कार्य किए जाएंगे। ऐसे आयोजनों में आप सभी लोगों की उपस्थिति सरकार को सकारात्मक दिशा देगी।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने फाइनल मैच के बालक तथा बालिका वर्ग के विनर टीम तथा रनर टीम के प्रतिभागियों को मैडल, नकद पुरस्कार राशि तथा खेल किट इत्यादि देकर सम्मानित किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने प्रतियोगिता के सफल आयोजन में अपनी महती भूमिका निभाने वाले टेक्निकल सपोर्ट पर्सन को भी सम्मानित किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.