वेतन भुगतान के लिए एचईसी के कर्मचारी टूल डाउन स्ट्राइक पर

रांची। हैवी इंजीनियरिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचईसी) के कर्मचारी गुरुवार को वेतन भुगतान की मांग को लेकर टूल डाउन स्ट्राइक पर रहे। इस वजह से एचईसी के तीन प्लांटों में काम बंद हो गया। एचईसी कर्मियों को पिछले सात महीने से वेतन का भुगतान नहीं हुआ है। इस वजह से एचईसी कर्मी आंदोलन कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार गुरुवार को एचएमबीपी में कर्मियों ने पहले काम बंद कर दिया। इसके बाद एफएफपी और एचएमटीपी के भी कर्मचारियों ने टूल डाउन कर दिया। तीनों प्लांट के कर्मियों ने टूल डाउन स्ट्राइक बकाया वेतन भुगतान के लिए किया।

उल्लेखनीय है कि एचईसी में अफसरों का सात माह और कर्मचारियों का छह माह का वेतन बकाया हो गया है। कर्मचारियों का कहना है कि एचईसी प्रबंधन के आला अफसर वेतन भुगतान को लेकर गंभीर नहीं हैं। पिछले दिनों एचएमबीपी के कर्मचारियों ने प्लांट का घेराव किया था। घेराव के बाद एचईसी प्रबंधन के आला अफसरों ने कर्मियों को आश्वासन दिया था कि जल्द वेतन का भुगतान होगा लेकिन भुगतान नहीं हुआ। इसके बाद कर्मियों ने टूल डाउन स्ट्राइक शुरू किया। कंपनी के तीनों प्लांटों में उत्पादन ठप होने के बाद रक्षा और नौ सेना से मिले कुछ उपकरणों का निर्माण कार्य बंद हो गया है।

एचईसी में अभी 1350 स्थायी अफसर-कर्मचारी हैं। दूसरी ओर करीब 1700 सप्लाई मजदूर काम करते हैं। हर माह कंपनी का वेतन आदि मद में करीब 11 करोड़ 40 लाख रुपये खर्च होता है। सिर्फ वेतन पर हर माह सात करोड़ खर्च आता है। बताया जाता है कि एचईसी पर कर्मचारियों का वेतन आदि मद में अब तक करीब 45 करोड़ रुपये बकाया हो गया है।

Comments are closed.