ट्रेन के एसी कोच में बैटरी बॉक्स में छुपाकर रखा गया 24 पैकेट गांजा बरामद

बेगूसराय। बिहार में पूर्वोत्तर भारत से आने वाली रेलगाड़ियां जहां गांजा समेत अन्य मादक पदार्थों के तस्कर का सुगम मालवाहक बन गया है। पश्चिम बंगाल और दक्षिण भारत से आने वाली रेलगाड़ियां शराब का मालवाहक बन गई है। बेगूसराय के बरौनी जंक्शन पर पश्चिम बंगाल समेत दक्षिण भारत के राज्यों से आने वाली ट्रेन से प्रत्येक दिन शराब बरामद किए जा रहे हैं। जबकि पूर्वोत्तर भारत से आने वाली ट्रेनों से बरामद गांजा बरामद किए जा रहे हैं। सोमवार की रात भी बरौनी रेल पुलिस ने अगरतला-रानी कमलापति (हबीबगंज) 01666 स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन से 22 पैकेट में बंद करीब 24 किलो गांजा बरामद किया है।

बरौनी रेल थानाध्यक्ष ने बताया कि यहां से गुजरने वाली सभी ट्रेनों की सघन जांच की जा रही है। इसी कड़ी में सोमवार की रात अगरतला से आई स्पेशल ट्रेन से बड़ी मात्रा में गांजा बरामद किया गया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि तस्करों ने एसी बोगी के बैटरी बॉक्स में गांजा छुपा कर रखा था। लेकिन गुप्त सूचना और सघन जांच के बाद 12 पैकेट गांजा बरामद कर लिया गया है, कारोबारी पकड़ में नहीं आया है। इधर बीते 10-15 दिनों से बरौनी जंक्शन पर रोज शराब पकड़े जाने के बाद देर रात ट्रेन के बैटरी बॉक्स में गुप्त रूप से रखे गए गांजा की बरामदगी से तस्करों के बीच हड़कंप मच गया है।

Comments are closed.