3 जनवरी से 15 से 18 साल के बच्चों को लगेगा टीका

  • पीएम ने किया राष्ट्रीय को संबोधित- कहा
  • 10 जनवरी से बुजुर्गों को बूस्टर डोज

आजाद सिपाही संवाददाता
नयी दिल्ली। देश में 3 जनवरी से 15 से 18 साल तक की उम्र वाले करीब 8 करोड़ बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगायी जायेगी। इसके अलावा 10 जनवरी से हेल्थ वर्कर्स समेत करीब 3 करोड़ फ्रंट लाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज दी जायेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 13 मिनट 46 सेकेंड के संबोधन में इस बात की घोषणा की। पीएम ने कहा कि 60+ उम्र वाले कॉ-मॉरबिडिटी (गंभीर बीमारी से पीड़ित) वाले नागरिकों को भी उनके डॉक्टर की सलाह पर वैक्सीन की बूस्टर डोज का विकल्प दिया जायेगा। मोदी ने कहा कि जल्द ही देश में नेजल वैक्सीन और दुनिया की पहली डीएनए वैक्सीन लगाना भी शुरू कर दिया जायेगा। हालांकि पीएम मोदी ने एक बार फिर देशवासियों से कोरोना महामारी से बचाव के सभी उपायों का पालन करने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि महामारी को हराने के लिए मास्क पहनने जैसे उपायों को अपनाये रखना जरूरी है। उन्होंने कहा, हम साल के अंतिम सप्ताह में हैं। 2022 आने ही वाला है। आप सभी 2022 के स्वागत की तैयारी में जुटे हैं। लेकिन उत्साह और उमंग के साथ ही ये समय सचेत रहने का भी है। भारत में कई लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित हैं। अपील है कि पैनिक न करें, लेकिन सावधान रहें। उन्होंने देश में स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता के बारे में जानकारी दी और कोरोना लहर से निपटने के लिए तैयारियों के प्रति आश्वस्त किया। उन्होंने वैक्सीनेशन को बचाव का बहुत बड़ा जरिया बताया। भारत ने अब तक 141 करोड़ वैक्सीन डोज के बेहद मुश्किल और अभूतपूर्व टारगेट को पूरा कर चुका है।

Comments are closed.