पारा शिक्षक अब कहलायेंगे सहायक अध्यापक

रांची। टेट पास पारा शिक्षकों को वेतनमान देने के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ पारा शिक्षकों की वार्ता कराई जाएगी। साथ ही आरक्षण रोस्टर की बाधा दूर की जाएगी। इस आश्वासन मिलने पर पारा शिक्षकों ने प्रस्तावित नियमावली पर सहमति प्रदान की। शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो और पारा शिक्षक प्रतिनिधिमंडल की बैठक मंगलवार को हुई। बैठक में प्रतिनिधिमंडल की ओर ड्राफ्ट पारा शिक्षक नियमावली पर आपत्ति दर्ज की गयी। प्रतिनिधिमंडल को जानकारी दी गयी कि हर साल पारा शिक्षकों के मानदेय में दस फीसदी वृद्धि की जायेगी। पारा शिक्षकों को चार बार लिखित परीक्षा पास करने का अवसर मिलेगा। आकलन परीक्षा पास करने के लिये सामान्य श्रेणी के पारा शिक्षकों को 40 फीसदी और रिजर्व श्रेणी के पारा शिक्षकों को 30 फीसदी अंक लाना होगा। वहीं ये भी बताया गया कि अनुकंपा देने पर सरकार विचार करेगी। बिना वेतनमान का उल्लेख किए 20 दिसंबर को कैबिनेट से पास होगी नियमावली। वहीं, नियमावली 29 दिसंबर से लागू होगी। मंत्री ने आश्वासन देते हुए कहा कि पारा शिक्षकों पर चल रहा केस सरकार वापस लेगी। जनवरी में वेतनमान पर पारा शिक्षकों के साथ होगी वार्ता। वार्ता में महाधिवक्ता को भी बुलाया जाएगा।

Comments are closed.