जेपीएससी की गड़बड़ी पकड़ी गयी, अब परीक्षा रद्द हो: देवेंद्र नाथ महतो

बापू वाटिका के समीप आक्रोशित छात्रों ने प्रदर्शन किया

रांची। जेएसएसयू (झारखंड स्टेट स्टूडेंट्स यूनियन) के आंदोलन के 41 वें दिन जेपीएससी आयोग द्वारा रिजल्ट के 41 दिन बाद 57 पास छात्रों को फिर असफल करने पर छात्रों ने कहा गड़बड़ी पकड़ी गयी है, अब इस परीक्षा को रद्द किया जाये। शनिवार को रांची के मोरहाबादी स्थित बापू वाटिका के समीप आक्रोशित छात्रों ने खूब नारेबाजी की और जेपीएससी अध्यक्ष अमिताभ चौधरी का पुतला दहन किया। वहीं झारखंड स्टेट स्टूडेंट्स यूनियन के अध्यक्ष देवेंद्र नाथ महतो, महासचिव मनोज यादव ने कहा कि आंदोलन के फलस्वरूप आयोग को कट आॅफ जारी करना था अब आंदोलन के ही दबाव से गड़बड़ी के तहत सेटिंग गेटिंग से पास करने वाले 57 छात्रों को आंदोलन के 41 दिन बाद बाहर करना पड़ा। जेपीएससी आयोग ने अपनी वेबसाइट पर जारी नोटिस में यह भी कहा है कि 249650 परीक्षा में शामिल हुए थे। जिसकी लगभग 5 लाख ओएमआर कॉपी जांच की गयी है। इस बात पर छात्र नेताओं ने आयोग को घेरते हुए कहा कि अगर सबकी ओएमआर कॉपी जांच होती तो कट आॅफ से कम अंक लाने वाले छात्रों को कैसे पास कर दिया जाता? और इतना आंदोलन के बावजूद कंडिका 30 में ओएमआर पब्लिक डोमेन डालने का स्पष्ट उल्लेख करने के बावजूद आज तक अपलोड नहीं करना बहुत बड़ी गड़बड़ी को दर्शाता है। साथ ही साथ उन्होंने आयोग द्वारा आज के नोटिस में एक नंबर से जांच कमेटी बनाकर जांच करने की बात पर पलटवार करते हुए कहा कि आयोग लीपापोती कर रहा है। खुद से गड़बड़ी करने वाला जेपीएससी आयोग खुद जांच करता है ऐसा में छात्रों को कभी  भी  न्याय नहीं मिल सकता है।

Comments are closed.