सरकार ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का निर्णय लिया है: प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा कि केंद्र सरकार ने तीनों कृषि कानुनों को वापस लेने का निर्णय लिया है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने देशवासियों को देव दीपावली और गुरु नानक देव के प्रकाश पर्व की बधाई दी। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार का प्रयास हमेशा किसानों के जीवन को आसान बनाना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अपने पांच दशक के जीवन में किसानों की चुनौतियों को बहुत करीब से देखा है जब देश हमें 2014 में प्रधानसेवक के रूप में सेवा का अवसर दिया तो हमने कृषि विकास, किसान कल्याण को सर्वोच्च प्राथमिकता दी। उन्होंने कहा कि देश के छोटे किसानों की चुनौतियों को दूर करने के लिए, हमने बीज, बीमा, बाजार और बचत, इन सभी पर चौतरफा काम किया। सरकार ने अच्छी क्वालिटी के बीज के साथ ही किसानों को नीम कोटेड यूरिया, सॉयल हेल्थ कार्ड, माइक्रो इरिगेशन जैसी सुविधाओं से भी जोड़ा।

उन्होंने कहा कि आज गुरु नानक देव जी का पवित्र प्रकाश पर्व है। मैं विश्वभर में सभी लोगों को और सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई देता हूं। ये भी बहुत सुखद है, कि डेढ़ साल के अंतराल के बाद करतारपुर साबिह कॉरिडोर अब फिर से खुल गया है। उन्होंने कहा कि गुरु नानक जी ने कहा था ‘विच दुनिया सेव कमाये, तान दरगाह बैसन पाई’। इसका अर्थ है कि राष्ट्र सेवा का मार्ग अपनाने से ही जीवन अच्छा चल सकता है। लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए हमारी सरकार सेवा की भावना के साथ काम कर रही है

Comments are closed.