झारखंडः नक्सलियों ने बंद के दौरान नवनिर्मित थाना भवन को बम से उड़ाया

गुमला। भाकपा माओवादी पोलित ब्यूरो सदस्य प्रशांत बोस और उनकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में बुलाए गए तीन दिवसीय बंद के आखिरी दिन गुरुवार देर रात गुमला में भाकपा माओवादियों ने जमकर उत्पात मचाया। गुरुवार देर रात भाकपा माओवादी कार्यकर्ताओं ने कुरुमगढ़ थाना के नवनिर्मित थाना भवन को बम से उड़ा दिया। पुलिस घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है।

मिली जानकारी के अनुसार 70-80 की संख्या में माओवादी कुरुमगढ़ पहुंचे थे। घटना की सूचना मिलते ही शुक्रवार सुबह मौके पर पुलिस पहुंची है।

उल्लेखनीय है कि नक्सली संगठन भाकपा माओवादी ने 23 से 25 नवंबर तक चार राज्यों झारखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बंद बुलाया था। चार दिनों के अंतराल में नक्सलियों की ओर से दूसरी बार बंद बुलाया गया था। इसके पहले 20 नवंबर को बुलाये गये बंद के दौरान झारखंड में नक्सलियों ने लातेहार और पश्चिमी सिंहभूम (चाईबासा) जिले के चक्रधरपुर में रेल की पटरियां उड़ा दी थीं। बंद के दौरान पुलिस और सुरक्षा बलों की मुस्तैदी की वजह से नक्सली कोई बड़ी घटना को अंजाम नहीं दे सके।

गुमला एसपी डॉ. एहतेशाम वकारीब ने बताया कि घटनास्थल पर पुलिस पहुंच कर पूरे मामले की जांच कर रही है। घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.