हर साल पूरे देश में मनाई जाएगी भगवान बिरसा मुण्डा की जयंतीः प्रधानमंत्री मोदी

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि जिस तरह राष्ट्रपति महात्मा गांधी, लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल, बाबा साहेब अम्बेडकर आदि की जयंती मनाई जाती है, उसी तरह भगवान बिरसा मुण्डा की जयंती हर साल पूरे देश में जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाई जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी सोमवार को जनजातीय गौरव दिवस के मौके पर मप्र की राजधानी भोपाल में आयोजित जनजातीय महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारत आज अपना पहला जनजातीय गौरव दिवस मना रहा है। आजादी के बाद देश में पहली बार इतने बड़े पैमाने पर पूरे देश के जनजातीय समाज की कला, संस्कृति, स्वतंत्रता आंदोलन और राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को गौरव के साथ याद किया जा रहा है, उन्हें सम्मान दिया जा रहा है। मैं आज यहां मध्यप्रदेश के जनजातीय समाज का आभार भी व्यक्त करता हूं। बीते अनेक वर्षों में निरंतर हमें आपका स्नेह, विश्वास मिला है। यह स्नेह हर पल और मजबूत होता जा रहा है। आपका यही प्यार हमें आपकी सेवा के लिए दिन रात एक करने के लिए प्रेरणा देता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गोंड महारानी वीर दुर्गावती का शौर्य हो या फिर रानी कमलापति का बलिदान, देश इन्हें भूल नहीं सकता। वीर महाराणा प्रताप के संघर्ष की कल्पना उन बहादुर भीलों के बिना नहीं की जा सकती, जिन्होंने कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ी और बलिदान दिया। आज जब हम राष्ट्रीय मंचों से, राष्ट्र निर्माण में जनजातीय समाज के योगदान की चर्चा करते हैं, तो कुछ लोगों को हैरानी होती है। ऐसे लोगों को विश्वास ही नहीं होता कि जनजातीय समाज का भारत की संस्कृति को मजबूत करने में कितना बड़ा योगदान रहा है।

उन्होंने कहा कि ‘पद्म विभूषण’ बाबासाहेब पुरंदरे जी ने छत्रपति शिवाजी महाराज के जीवन को, उनके इतिहास को सामान्य जन तक पहुंचाने में जो योगदान दिया है, वो अमूल्य है। यहां की सरकार ने उन्हें कालिदास पुरस्कार भी दिया था। आज चाहे गरीबों के घर हों, शौचालय हों, मुफ्त बिजली और गैस कनेक्शन हों, स्कूल हो, सड़क हो, मुफ्त इलाज हो, ये सब कुछ जिस गति से देश के बाकी हिस्से में हो रहा है, उसी गति से आदिवासी क्षेत्रों में भी हो रहा है।

उन्होंने कहा कि अभी हाल में पद्म पुरस्कार दिए गए हैं। जनजातीय समाज से आने वाले साथी जब राष्ट्रपति भवन पहुंचे तो दुनिया हैरान रह गई। आदिवासी और ग्रामीण समाज में काम करने वाले ये देश के असली हीरे हैं। आज जनजातीय समाज के लिए शिवराज सिंह चौहान जी की सरकार ने कई बड़ी योजनाओं का शुभारंभ किया है। ‘राशन आपके ग्राम ‘योजना हो या फिर मध्यप्रदेश सिकलसेल मिशन, ये कार्यक्रम जनजाति समाज में स्वास्थ्य व पोषण को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभाएंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.