गीता सरदार हत्याकांड: हत्याकांड का खुलासा, तीन आरोपित गिरफ्तार

रांची। तमाड़ थाना पुलिस ने गीता सरदार हत्याकांड का खुलासा करते हुए ससुर, सास और ननद को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपितों में मृतका का ससुर मड़की मुंडा, सास साबी देवी और ननद सुकरु कुमारी शामिल हैं। इनकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त लोहे का राड बरामद किया गया है।

ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेस में बताया कि 10 अक्टूबर को ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी कि तमाड़ थाना क्षेत्र के बेलबेला गांव के उदय टोला में गीता सरदार (35) पत्नी राजेन्द्र सिंह मुंडा की हत्या कर दी गयी है। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो घर के सभी लोग फरार थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया और मामले को लेकर थाने में हत्या का मामला दर्ज किया गया।

एसपी ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए बुंडू एसडीपीओ अजय कुमार के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया। टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गुप्त सूचना के आधार पर हत्या में शामिल सास, ससुर और ननद को गिरफ्तार किया। तीनों ने पूछताछ में बताया कि मोबाइल को लेकर ननद सुकरु कुमारी और मृतका गीता सरदार के साथ आपस में झगड़ा हो रहा था। जिसे देखकर मृतका के ससुर मड़की मुंडा ने लोहे के रड से बहु गीता सरदार के सिर पर मार दिया, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी।

उल्लेखनीय है कि गीता सरदार का विवाह 14 वर्ष पूर्व में हुआ था। चार वर्ष तक गीता सरदार का कोई बच्चा नहीं होने पर उसका पति राजेन्द्र सिंह मुंडा दूसरा विवाह करके घर से कही बाहर चल गया था। एसपी ने बताया कि छापेमारी टीम में दीपक कुमार सिंह, यशवंत कुमार, मनिन्द्र कुमार शर्मा, सिरिल संगा सहित सशस्त्र बल शामिल थे।

Comments are closed.