Junior Hockey World Cup: भारत में होने वाले जूनियर हॉकी विश्व कप से हटा इंग्लैंड, बताई ये वजह

 इंग्लैंड ने भारत में अगले महीने होने वाले एफआईएच जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट से अपना नाम वापस ले लिया है. यहां ब्रिटिश नागरिकों के लिए कोविड-19 नियमों के तहत 10 दिनों के अनिवार्य पृथकवास का हवाला देते हुए उसने ये फैसला किया है. जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट 24 नवंबर से 5 दिसंबर तक भुवनेश्वर में खेला जाना है. इस से पहले सितंबर में ऑस्ट्रेलिया ने भी कोविड-19 प्रोटोकॉल के चलते इस टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया था. बता दें कि, भारत ने देश में आने वाले सभी ब्रिटिश नागरिकों पर उसी तरह के प्रतिबंध लगाये है जैसे ब्रिटेन में भारतीय नागरिकों पर लगे है.

इंग्लैंड हॉकी संघ ने अपने बयान में कहा है कि उसने जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट से हटने के अपने फैसले के बारे में इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन (FIH) को सूचित कर दिया है. टीम के performance director एड बार्नी ने कहा, “उदास मन से हमने भारत में होने वाले जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया है. हम उन खिलाड़ियों और कोचों के प्रति बेहद सहानुभूति रखते हैं जो अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के इस अवसर से चूक जाएंगे.”

इन हालात में विश्व कप में हिस्सा लेना संभव नहीं

हॉकी संघ ने अपने बयान में कहा, “भारत सरकार ने शुक्रवार को ब्रिटेन से आने वाले नागरिकों के लिए 10 दिनों के अनिवार्य पृथकवास की घोषणा की है. कोविड से जुड़ी कई चिंताओं के बीच खिलाड़ियों और सहयोगी सदस्यों के मानसिक स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हमारे लिए इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेना संभव नहीं है.”

ऑस्ट्रेलिया भी ले चुका है अपना नाम वापस

इस से पहले ऑस्ट्रेलिया भी कोविड-19 प्रोटोकॉल के चलते जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट से हटने का एलान कर चुका है. हॉकी ऑस्ट्रेलिया के सीईओ माइकल जॉनस्टन ने इस फैसले की जानकारी देते हुए कहा था, “कोविड-19 के इस दौर में यात्रा के दौरान जोखिम का आकलन करने और ऑस्ट्रेलियाई सरकार की स्वास्थ्य सलाह के आधार पर हॉकी ऑस्ट्रेलिया इस समय हॉकी से संबंधित विदेशी यात्राओं पर विचार नहीं कर रहा है. भारत में होने वाले जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट और प्रो लीग के अलावा ऑस्ट्रेलिया इस साल के आखिर में दक्षिण अफ्रीका में होने वाले जूनियर महिला वर्ल्ड कप, बेल्जियम में इंडोर वर्ल्ड कप और 2022 में अमेरिका में होने वाले मास्टर्स इंडोर वर्ल्ड कप में भी हिस्सा नहीं लेगा.”

ओडिशा के भुवनेश्वर में खेला जाएगा ये विश्व कप

एफआईएच जूनियर हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट इस साल भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम 24 नवंबर से 5 दिसंबर तक खेला जाना है. भारत इस टूर्नामेंट का मौजूदा चैंपियन है. 2016 में भारत ने लखनऊ के मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में खेले गए टूर्नामेंट के फाइनल में बेल्जियम को 2-1 से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया था. बता दें कि, कलिंगा स्टेडियम में ही जनवरी 2023 में सीनियर हॉकी विश्व कप भी खेला जाना है.

Comments are closed.