5 नवंबर को 12 ज्योतिर्लिंग में एक साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम

बाबा बैद्यनाथ मंदिर में भी भव्य आयोजन की तैयारी

रांची। भारतीय इतिहास में यह पहली बार है, जब देश के सभी 12 ज्योतिर्लिंगों में एक साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा। यह पहल केंद्रीय सांस्कृतिक मंत्रालय की ओर से हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ में 5 नवंबर को आदि शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। इस पुनीत मौके पर सभी ज्योतिर्लिंग स्थल पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा। देवघर में भजन कीर्तन के साथ शिव तांडव की प्रस्तुति होगी। इसकी तैयारी जोरों पर चल रही है।

केंद्रीय सांस्कृतिक मंत्रालय ने सांस्कृतिक कार्यक्रम को सफल बनाने की जिम्मेदारी सभी क्षेत्रीय केंद्रों को सौंपी है। पूर्वी क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र कोलकाता को बाबा बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग और पुरी ज्योतिष पीठ में आयोजन का जिम्मा मिला है। पूर्वी क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र कोलकाता के प्रोग्राम आफिसर गौतम मुखर्जी ने बताया कि सभी ज्योतिर्लिंग और ज्योतिष पीठ में सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा। देवघर जिला प्रशासन को इसकी सूचना दे दी गयी है। कार्यक्रम में स्थानीय सांसद और विधायक भी आमंत्रित होंगे। संध्या आरती के बाद बाबा बैद्यनाथ मंदिर परिसर में ही यह कार्यक्रम होगा। इसमें भजन कीर्तन के साथ शिव तांडव का मंचन होगा। इसे देवघर के कलाकार संजीव परिहस्त प्रस्तुत करेंगे।

Comments are closed.