अगले दो माह में झारखंड में बंपर नौकरी

नियमावली की विसंगतियों को दूर करने में जुटे अफसर
प्रोजेक्ट भवन में नोडल अधिकारियों की कार्यशाला

अजय शर्मा
रांची। झारखंड में अगले दो माह में करीब ढाई लाख नियुक्तियां होंगी। इसकी तैयारी शुरू कर दी गयी है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश के बाद विभिन्न विभागों के सीनियर अधिकारी इसमें जुट गये हैं। साथ ही नोडल अधिकारियों को यह जवाबदेही दी गयी है कि वे सिर्फ नियमावली की विसंगतियों को दूर करें। वर्ष 2021 को सरकार ने नियुक्ति वर्ष घोषित कर रखा है। इसी दिशा में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने यह कदम बढ़ाया है। उन्होंने गुरुवार को यह निर्देश दिया था कि 31 अक्टूबर तक नियमावली की विसंगतियों को दूर किया जाये। उसके आलोक में शुक्रवार को एक कार्यशाला का आयोजन प्रोजेक्ट भवन में हुआ, जिसमें विभिन्न विभागों के नोडल पदाधिकारी शामिल हुए। बता दें कि झारखंड में सबसे अधिक नियुक्ति शिक्षक और आरक्षक के पद पर होनी है।

समय रहते अगर अधिकारी नियुक्ति नियमावली में संशोधन करेंगे, तो नवंबर माह से नौकरी के इश्तिहार भी जारी होने शुरू हो जायेंगे। यह संशोधन मैट्रिक, दसवीं और स्नातक स्तर की नियुक्ति के लिए किया जा रहा है। मुख्यमंत्री चाहते हैं कि झारखंड के बेरोजगारों को जल्द से जल्द नौकरी मिले। लिहाजा राज्य कर्मचारी चयन आयोग, झारखंड लोक सेवा आयोग और पुलिस मुख्यालय को यह निर्देश दिया गया है अविलंब इस दिशा में कदम उठाया जाये।

Comments are closed.