भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव परिणाम: दीदी ने बनाई बड़ी बढ़त, 34 हजार वोटों से आगे, भाजपा को झटका

पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की कुर्सी रहेगी या उनकी विदाई होगी इसका फैसला आज हो जाएगा। इस बीच आए रुझानों में दीदी को बढ़त मिलती दिख रही है। जबकि भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल काफी पीछे चल रही हैं। बता दें कि ममता दीदी को मुख्यमंत्री बने रहने के लिए इस सीट से जीतना बेहद जरूरी है। हालांकि उनके लिए इस सीट से कामयाबी हासिल करना इतना आसान नहीं है क्योंकि उनका सामना भाजपा की प्रियंका टिबरेवाल से है। आज कड़ी सुरक्षा के बीच भवानीपुर सीट पर हुए उपचुनाव की मतगणना जारी है। भवानीपुर के अलावा शमशेरगंज और जंगीपुर विधानसभा सीटों पर भी उप-चुनाव के नतीजे भी घोषित किए जाएंगे।

12:30 – भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव के 11वें राउंड की मतगणना के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 34,000 मतों से आगे चल रही हैं।

12:00 – नौवें दौर की मतगणना के बाद भवानीपुर उपचुनाव में 28,825 मतों से आगे हैं। बढ़त के बाद कोलकाता में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास के बाहर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता और समर्थक जश्न मना रहे हैं।

11:20 – चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल से 12,435 मतों से आगे चल रही हैं।

11:05 – बढ़त को देखते हुए टीएमसी समर्थकों ने कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास के बाहर जश्न मनाया। वे भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव के दूसरे चरण की मतगणना में भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल से 2,377 वोटों से आगे चल रही हैं।

11:00 – चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव के दूसरे चरण की मतगणना में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल से 2,377 मतों से आगे चल रहीं हैं।

10:00 – चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक मतगणना के पहले चरण में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी 3680 वोटों से आगे चल रही हैं। वहीं भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल 881 वोट पर हैं।

बता दें कि दक्षिण कोलकाता के भवानीपुर से विधानसभा चुनाव जीतने वाले राज्य मंत्री शोभंडेब चट्टोपाध्याय ने मई में परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद इसे खाली कर दिया, जिससे ममता बनर्जी के लिए उपचुनाव का मार्ग प्रशस्त हो गया। वहीं मुर्शिदाबाद जिले के जंगीपुर और समसेरगंज में एक-एक उम्मीदवार की मौत के बाद मतदान रद्द कर दिया गया था।

Comments are closed.