1932 खतियान लागू होने पर ग्रामीण क्षेत्रों में मना जश्न, हुई आतिशबाजी

नामकुम (आजाद सिपाही)। नामकुम प्रखंड के कुटियातु , खरसीदाग, भुसुर, तुपुदाना, नामकुम बाजार व रामपुर चौक पर झामुमो नामकुम प्रखंड अध्यक्ष बिरीश मिंज, 52 पड़हा अध्यक्ष प्रदीप तिर्की, हहाप मुखिया नन्हे कच्छप, कुटियातु मुखिया निशा उरांव, साधो लकड़ा, बधना उरांव, सुशीला भूतकुवर, मरियम लकड़ा, मदन टूटी, मादी टोप्पो, अमर बड़ाईक ने संयुक्त रुप से राज्य में 1932 खतियान लागू होने पर गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को बधाई देते हुये आभार प्रकट कर जुलूस निकाला। जुलूस में आदिवासी और मूलवासी लोग शामिल हुये। जुलूस में शामिल लोग झारखंडियों की पहचान, 1932 का खतियान, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। इस दौरान मांदर और ढोलक की थाप जमकर थिरकते हुए जश्न मनाया गया। खूब अबीर-गुलाल उड़ा, साथ ही जम कर आतिशबाजी भी हुई। इस मौके पर झारखंड मुक्ति मोर्चा नामकुम प्रखंड अध्यक्ष बिरीश मिंज ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.