Tokyo Paralympics: सुयश जाधव से पदक की उम्मीद, पुरुषों की 100 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक स्पर्धा के फाइनल में पेश कर रहे चुनौती

टोक्यो पैरालंपिक में भारत को सुयश जाधव पुरुषों की 100 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक स्पर्धा के फाइनल में चुनौती पेश कर रहे हैं। उनसे इस स्पर्धा में पदक की उम्मीद रहेगी। इससे पहले टोक्यो पैरालंपिक में 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट में सिद्धार्थ बाबू, दीपक सैनी और अवनि लेखरा वाली भारतीय टीम फाइनल में क्वालीफाई करने से चूक गई। भारत के लिए आज आठवां दिन भी भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण है। कई भारतीय एथलीट पदक जीतने के लिए अपना दमखम दिखाएंगे। भारतीय खिलाड़ी स्विमिंग, बैटमिंटन, एथलेटिक्स की स्पर्धाओं में अपनी चुनौती पेश करेंगे। बीते सातवें दिन भारतीय खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रहे और तीन पदक अपनी झोली में डाले। सातवें दिन जहां पहला पदक निशानेबाजी में सिंहराज अडाना ने दिलाया। वहीं, ऊंची कूद में मरियप्पन थंगवेलु और शरद में मेडल जीता।

निशानेबाजी की मिक्स्ड टीम इवेंट में भारत फाइनल में क्वालीफाई करने से चूका

टोक्यो पैरालंपिक में 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट में भारत के हाथ निराशा लगी। सिद्धार्थ बाबू, दीपक सैनी और अवनि लेखरा वाली भारतीय निशानेबाजी टीम फाइनल में क्वालीफाई करने से चूक गई। छठी सीरीज में भारत की तरफ से अवनि लेखरा ने 10.496 अंक अर्जित किए और वह 27वें नंबर रहीं। सिद्धार्थ 10.425 अंक हासिल कर 40वें नंबर रहे। जबकि, दीपक सैनी 10.451 अंकों के साथ 43वें स्थान पर रहे। इस तरह तीनों भारतीय निशानेबाज बाहर हो गए।

Comments are closed.