इस्कॉन संस्थापक श्रील प्रभुपाद की 125वीं जयंती पर आज विशेष स्मारक सिक्का जारी करेंगे प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। इस्कॉन के संस्थापक और हरे राम हरे कृष्ण महामंत्र से विश्व में श्री कृष्ण भक्ति की अलख जगाने वाले श्रील भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद की 125वी जयंती के मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विशेष स्मारक सिक्का जारी करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, “आज शाम 4:30 बजे, श्रील भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी को विशेष श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी, जिन्होंने इस्कॉन के माध्यम से भगवान श्री कृष्ण की शिक्षाओं को लोकप्रिय बनाने में अग्रणी योगदान दिया। उनकी 125वीं जयंती के अवसर पर एक विशेष स्मारक सिक्का जारी किया जाएगा।”

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस दौरान सभा को भी संबोधित करेंगे। इस मौके पर केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी मौजूद रहेंगे। उल्लेखनीय है कि श्रील भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद ने इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) की स्थापना की थी। इसे आमतौर पर “हरे कृष्ण आंदोलन” के रूप में जाना जाता है। इस्कॉन ने श्रीमद्भगवद् गीता और अन्य वैदिक साहित्य का 89 भाषाओं में अनुवाद किया है। यह दुनिया भर में वैदिक साहित्य के प्रसार में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। स्वामीजी ने सौ से अधिक मंदिरों की भी स्थापना की और दुनिया को भक्ति योग का मार्ग सिखाने वाली कई किताबें लिखीं।

Comments are closed.