चैता बेदिया की याचिका पर हाईकोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब

रांची। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी से जुड़े एक मामले में दायर याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। रांची अनगड़ा के चैता बेदिया के परिवार को पुलिस ने बिना कोई कारण बताये हुए गिरफ्तार कर लिया है। अपने परिजन की रिहाई की मांग को लेकर हाईकोर्ट में बेदिया ने हैबिएस कॉरपस याचिका दायर की है। इस याचिका पर हाईकोर्ट के न्यायाधीश अपरेश कुमार सिंह और न्यायाधीश अनुभा रावत चौधरी की युगल पीठ में सुनवाई हुई।

अदालत ने मामले में दोनों पक्षों को सुनने के बाद सरकार को शपथ पत्र के माध्यम से जवाब पेश करने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई आठ सितंबर को होगी। चैता बेदिया ने झारखंड हाईकोर्ट में हैबिएस कॉरपस याचिका दायर की है। याचिका के माध्यम से अदालत से गुहार लगाई है कि उनके परिजन की रिहाई हो और मामले की सुनवाई के दौरान पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए उनके परिजन को अदालत में पेश किया जाये।

बेदिया ने याचिका के माध्यम से अदालत को जानकारी दी है कि पुलिस ने उनके पिता, बहन, पत्नी और बच्चे को गिरफ्तार कर लिया है। उसकी सूचना उन्हें नहीं दी जा रही है कि क्यों उन्हें गिरफ्तार किया गया है। कहां पर रखा गया है।कई दिन बीत गए हैं लेकिन पुलिस ने न तो उन्हें रिहा किया है और ना ही उसे किसी अदालत में पेश किया है। उन्होंने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस उनके परिवार पर सुनील तिवारी पर केस करने का दबाव बना रहा है ।

Comments are closed.