गडकरी, मुख्तार अब्बास नकवी और गिरिराज किशोर करेंगे जम्मू-कश्मीर का दौरा

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में जनसंपर्क अभियान के तहत आठ और केंद्रीय मंत्री यहां पर आ रहे है। इन मंत्रियों में नितिन गडकरी, मुख्तार अब्बास नकवी और गिरिराज किशोर शामिल हैं। ये सभी मंत्री सितंबर और अक्टूबर महीने में आएंगे। जम्मू-कश्मीर में कुल 70 केंद्रीय मंत्रियों के आने की योजना है।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी कश्मीर में 27 और 28 सितंबर को आ रहे हैं। ये यहां पर राष्ट्रीय राजमार्ग और रिंग रोड पर नींव पत्थर रखने के अलावा जोजिला मोड टनल का निरीक्षण भी करेंगे।

गडगरी बारामुला-गुलमर्ग राष्ट्रीय राजमार्ग का शिलान्यास करेंगे। वह अनतंनाग में डोनीपावा से आशाजीपारा राष्ट्रीय राजमार्ग का शिलान्यास भी करेंगे। यह राष्ट्रीय अनतंनाग में राजमार्ग-44 से इस मार्ग को जोड़ेगा। यह राजमार्ग 8.5 किलोमीटर लंबा है। ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह दो और तीन अक्टूबर को कठुआ में आ रहे हैं। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास मंत्री सात और आठ अक्टूबर को बडगाम में आ रहे हैं। शिक्षा राज्यमंत्री अन्नपूर्णा देवी अनतंनाग जिले में 21 और 22 अक्टूबर को आ रही हैं।

उपभोक्ता मामलों तथा खद्य और जनवितरण विभाग के मंत्री अश्विनी कुमार चौबे रामबन जिले में 21 से 23 अक्टूबर तक दौरा कर विकास कायों का जायजा लेंगे। जलशक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल रियासी जिले में 26 और 27 अक्टूबर को आ रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर में कुल 70 केंद्रीय मंत्रियों के आने की योजना है। जनसंपर्क अभियान के पहले चरण में 36 मंत्रियों ने जम्मू-कश्मीर का दौरा कर गृह मंत्रालय और प्रधानमंत्री कार्यालय को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी।

 

Comments are closed.