अस्पताल में भर्ती सायरो बानो की होगी एंजिओग्राफी, हार्ट के लेफ्ट वेंट्रिकुलर‌ में समस्या के संकेत

अपने दौर की मशहूर अभिनेत्री रहीं सायरा बानो पिछले चार दिनों से सांस लेने में तकलीफ और ब्लड प्रेशर व शुगर लेवल बढ़ने के चलते मुम्बई के खार स्थित हिंदूजा अस्पताल में भर्ती हैं, जहां आईसीयू म उनका इलाज चल रहा है. अब एबीपी न्यूज़ को ताजा जानकारी हासिल हुई है कि 77 साल की सायरा बानो के हार्ट के लेफ्ट वेंट्रिकुलर में अवरोध पैदा हो गया है, जिसे अच्छी तरह से समझने और फिर उसके आधार पर आगे का इलाज करने के लिए डॉक्टरों ने उनकी एंजिओग्राफी करने‌ का फैसला किया है.

 

एक लम्बे समय से दिलीप कुमार और सायरो बानो के पारिवारिक मित्र और प्रवक्ता रहे फैजल फारूकी ने एबीपी न्यूज़ से फोन पर खास बातचीत करते हुए कहा, “डॉक्टरों संदेह है कि सायरो बानो के हार्ट के लेफ्ट वेंट्रिकुलर में किसी तरह का अवरोध पैदा हो गया है. यही वजह कि सायरा जी का इलाज कर रहे डॉक्टर निखिल गोखले ने उनकी एंजिओग्राफी का फैसला किया है, जिससे साफ हो जाएगा कि उन्हें किस तरह की समस्याएं हैं और आगे चलकर किस तरह से उनका इलाज किया जाना है.”

 

फैजल फारूकी ने डॉ. नितिन गोखले से हुई अपनी बातचीत के आधार पर एबीपी न्यूज़ को आगे बताया, “डॉ. गोखले और उनकी टीम सायरा बानो की एंजिओग्राफी को लेकर किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं हैं. हो सकता है कि सायरा जी को एक-दिन में अस्पताल से छुट्टी दे दी जाए और उनके बाद एक बार फिर से उन्हें भर्ती कर उनकी एंजिओग्राफी की जाए.”

 

फैजल ने एबीपी न्यूज़ को बताया कि सायरा बानो‌ की हालत स्थिर और पहले से काफी बेहतर है और उनकी उम्र को देखते हुए डाॅक्टर्स सभी तरह के एहतियात बरत रहे हैं. फैजल फारूकी ने‌ कहा कि सायरा बानो की तबीयत को लेकर किसी तरह की चिंता की बात नहीं है.

Comments are closed.