अधिवक्ता राजीव कुमार के तीन ठिकाने पर छापेमारी में कई संपत्तियों के डीड बरामद

रांची। कोलकाता में गिरफ्तार झारखंड हाई कोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार के घर, कार्यालय और भाई की राइस मिल पर पश्चिम बंगाल की पुलिस ने छापेमारी की। गुरुवार देर रात तक चली छापेमारी में पुलिस के हाथ तीन डायरी लगी है। बताया जा रहा है कि इसमें नकद लेनदेन का विवरण दिया गया है। इसके अलावा चैट और डिजिटल सबूत भी बताते हैं कि पीआईएल करने वालों के साथ पैसे के बारे में चर्चा हुई थी। पुलिस को कई संपत्तियों के डीड भी मिले हैं। इसमें रांची में सात फार्म हाउस, उनके तीन मंजिला घर के अलावा 16 फ्लैट, नोएडा में फ्लैट और ग्रेटर में कार्यालय शामिल हैं।

बंगाल पुलिस के डिटेक्टिव डिपार्टमेंट के इंस्पेक्टर सैकत चंदा के नेतृत्व में दस सदस्यीय टीम ने अधिवक्ता राजीव कुमार के घर , कार्यालय और राइस मिल सहित तीन ठिकाने पर छापामारी की थी। बंगाल पुलिस के डिटेक्टिव डिपार्टमेंट को जांच के दौरान कई दस्तावेज हाथ लगे हैं। कोलकाता पुलिस की टीम सर्च वारंट लेकर पहुंची थी। उसके बाद टीम गौरी शंकर नगर स्थित घर और उनके छोटे भाई अनीश के तुपुदाना स्थित शंकभरी राइस मिल में जांच की। इस दौरान कई दस्तावेज और डाटा पुलिस ने एकत्र किए। उल्लेखनीय है कि झारखंड हाई कोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार को बंगाल पुलिस ने 50 लाख रुपए के साथ 31 जुलाई को कोलकाता से गिरफ्तार किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.