कांग्रेस का विरोध मंहगाई या बेरोजगारी के खिलाफ नहीं, बल्कि राम जन्म भूमि के विरोध में किया गया: अमित शाह

आजाद सिपाही संवाददाता
नयी दिल्ली। गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस के दिल्ली में हुए प्रदर्शन पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने साफ कहा कि कांग्रेस का यह विरोध प्रदर्शन महंगाई या फिर बेरोजगारी के खिलाफ नहीं, बल्कि राम जन्म भूमि के पक्ष में आये फैसले और शिलान्यास के खिलाफ था। आज ही के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम जन्म भूमि का शिलान्यास किया था। ऐसे में काले कपड़े पहन कर कांग्रेस पार्टी का विरोध सिर्फ और सिर्फ उसकी तुष्टीकरण की नीति को दर्शाता है। अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने हिडन तरीके से अपीजमेंट की प़ॉलिसी अपनाई है। आज ना तो ईडी ने कोई समन जारी किया और ना ही पुछताछ की, फिर भी आज ही के दिन क्यों यह प्रदर्शन किया गया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस मंहगाई और बेरोजगारी की आड़ में तृष्टीकरण की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि आज ही के दिन पीएम मोदी ने राम जन्म भूमि का शिलान्यास किया था, आज ही के दिन करोड़ो लोगों की अस्था परवान चढ़ी थी। आज तो खुशी मनाने का दिन है लेकिन कांग्रेस इसका विरोध कर रही है और अपनी तुष्टीकरण की की नीति को आगे बढ़ा रही है। कांग्रेस तो वैसे रोज ही विरोध प्रदर्शन करती है और हमेशा साधारण कपड़ों में करती है लेकिन आज ही के दिन काले कपड़ों में आने की जरूरत क्या थी। साफ है कि कांग्रेस ने राम मंदिर के विरोध के लिए काले कपड़ों का इस्तेमाल की है। कांग्रेस की यह तुष्टीकरण की नीति ना तो देश के लिए बेहतर है और ना कांग्रेस के लिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.