अक्टूबर में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहरः एनआईडीएम

– प्रधानमंत्री कार्यालय को सौंपी रिपोर्ट

नई दिल्ली। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान(एनआईडीएम) के मुताबिक देश में अक्टूबर के महीने में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। एनआईडीएम ने इस संबंध में तैयार रिपोर्ट प्रधानमंत्री कार्यालय को सौंप दी है। इससे पहले विदेशी एजेंसी ने भी 40 एक्सपर्ट के हवाले से जुलाई से लेकर अक्टूबर के बीच देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जताई है।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान की एक्सपर्ट कमेटी की रिपोर्ट में अस्पतालों में बच्चों के लिए चिकित्सीय उपकरणों के इंतजाम करने पर जोर दिया गया है। रिपोर्ट में तीसरी लहर की वजह डेल्टा वेरियंट प्लस को बताया जा रहा है। हालांकि राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केन्द्र (एनसीडीसी) के मुताबिक देश में 2 अगस्त तक कोरोना के डेल्टा प्लस वेरियंट के 70 मामले की पुष्टि हुई है। जबकि इसकी जांच के लिए 16 राज्यों से 58,240 सैंपल की जांच की गई है।

उधर, इंडियन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना की तीसरी लहर से बच्चे प्रभावित होंगे, इसका अभी कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिला है। लिहाजा यह कहना गलत है कि इससे बच्चे ज्यादा प्रभावित होंगे।

Comments are closed.