धनबाद में चिकित्सकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल नौ से

धनबाद जेल में बंद कुख्यात अमन सिंह द्वारा डॉक्टरों को धमकी और रंगदारी मांगे जाने के मामले को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने गंभीरता से लिया है। आईएमए की जिला कमेटी ने 9 मई से पूरे धनबाद में निजी अस्पतालों में ओपीडी और इमरजेंसी सेवा अनिश्चित काल के लिए बंद करने की घोषणा कर दी है।

इस संबंध में आईएमए के जिला सचिव डॉक्टर सुशील कुमार ने बताया कि आंदोलन पूरे राज्य में करने की तैयारी चल रही है। इसके लिए प्रदेश कमेटी के पदाधिकारियों की आवश्यक बैठक हुई है। उन्होंने कहा कि धनबाद में जो भी घटनाएं घटित हो रही हैं, उसकी सूचना प्रदेश कमेटी को दी गई है।

दूसरी ओर धनबाद के सिविल सर्जन डॉ. श्याम किशोर कांत ने स्थिति को देखते हुए जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को अलर्ट मोड पर रहने का निर्देश दिया है। शहीद निर्मल महतो मेमोरियल कॉलेज एवं अस्पताल (एसएनएमएमसीएच) के अधीक्षक डॉ. एके वर्णवाल ने कहा है कि डॉक्टर समुदाय के साथ दुर्व्यवहार की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन एसएनएमएमसीएच में ओपीडी और इंडोर सेवा सुचारू रूप से चलाई जाएगी, ताकि गरीब मरीजों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। इसके लिए इमरजेंसी में भी अतिरिक्त डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई जाएगी।

उल्लेखनीय है कि धनबाद के चर्चित सर्जन डॉ. समीर कुमार को शूटर अमन सिंह लगातार धमकी दे रहा है। उनसे एक करोड़ रुपये एकमुश्त और पांच लाख रुपये हर महीने बतौर रंगदारी देने की मांग की गई है। नहीं देने पर पूरे परिवार सहित जान से मारने की धमकी मिली है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.