नेपाल के प्रधानमंत्री देउबा ने बाबा विश्वनाथ के दरबार में पत्नी संग लगाई हाजिरी

-काशी विश्वनाथ धाम के नए स्वरूप को देखते रह गये देउबा

वाराणसी। नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने रविवार को पत्नी आरजू राणा देउबा और 40 सदस्यीय दल के साथ श्री काशी विश्वनाथ के स्वर्णिम गर्भगृह में हाजिरी लगाई। गर्भगृह में वैदिक ब्राह्मणों के आचार्यत्व में मंत्रोच्चार के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री ने पत्नी के साथ बाबा के ज्योर्तिलिंग का पूरे श्रद्धा के साथ अभिषेक किया। नेपाल के प्रधानमंत्री ने अपने देश में सुख समृद्धि के लिए बाबा से कामना की। इसके पहले मंदिर प्रबंधन ने मेहमान प्रधानमंत्री और उनके साथ आये दल का स्वागत किया।

मंदिर में दर्शन-पूजन के बाद नेपाल के प्रधानमंत्री ने काशी विश्वनाथ धाम के नव्य और विस्तारित स्वरूप की अद्भुत छटा देखी तो अपलक देखते ही रह गये। यही हाल उनके साथ आये दल का भी रहा। साथ में मौजूद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मेहमान प्रधानमंत्री को काशी के नव्य और भव्य स्वरूप के बारे में भी अवगत कराया। देउबा का काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर-4 के पास नागरिकों ने भव्य स्वागत किया। ढोल-नगाड़े और डमरू की गूंज के साथ हर-हर महादेव के उद्घोष के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री ने बाबा विश्वनाथ के मंदिर में प्रवेश किया। अयोध्या और मथुरा के कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। अयोध्या से पहुंचीं महिला कलाकारों ने नृत्य प्रस्तुत किया। भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ नागरिकों ने हाथ में तिरंगा और नेपाल का झंडा लहरा मेहमानों का पूरे गर्मजोशी से स्वागत किया।

प्रधानमंत्री देउबा ने काशी विश्वनाथ मंदिर में विशेष पूजा-अर्चना के बाद धाम से होते हुए ललिता घाट स्थित साम्राज्येश्वर पशुपतिनाथ महादेव मंदिर पहुंचे। यहां मंदिर प्रबंधन ने नेपाली परम्परा के अनुसार अपने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। ललिता घाट के पास स्थित मंदिर बाहर से देखने में हूबहू नेपाल के प्रसिद्ध पशुपतिनाथ की प्रतिमूर्ति है। इसलिए इसे काशी का पशुपतिनाथ भी कहा जाता है। इसका निर्माण नेपाल की राजधानी काठमांडू स्थित पशुपतिनाथ मंदिर की तर्ज पर किया गया है। नेपाली मंदिर में दर्शन पूजन के बाद मेहमान प्रधानमंत्री और उनके साथ आया दल नदेसर स्थित एक तारांकित होटल में दोपहर का भोजन कर कुछ देर आराम करेगा। इसके बाद नेपाल के देउबा और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की आधा घंटे विभिन्न मुद्दों पर वार्ता होगी। यहां से प्रधानमंत्री देउबा एयरपोर्ट जाएंगे। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ भी उन्हें विदा करने के लिए साथ एयरपोर्ट जाएंगे।

Comments are closed.