ईडी झारखंड में सरकार गिराने की साजिश मामले की कर सकती है जांच

रांची। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) झारखंड में झामुमो-कांग्रेस महागठबंधन की हेमंत सोरेन सरकार गिराने की साजिश मामले की जांच कर सकती है। झारखंड ईडी ने इस संबंध में अपने मुख्यालय को प्रस्ताव भेजा है।

प्रस्ताव में इस बात की जानकारी दी है कि पुलिस ने कोतवाली थाना में दर्ज केस का अनुसंधान बेहद कमजोर तरीके से किया है। इस केस में प्रीवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट भी लगा है लेकिन उस नजरिए से और उस स्तर का अनुसंधान नहीं किया गया है। इसे मनी लॉन्ड्रिंग अधिनियम के तहत भी अनुसंधान किया जा सकता है। ईडी मुख्यालय की अनुमति के बाद ईडी इस केस को टेकओवर कर जांच शुरु करेगा। बीते 24 जुलाई, 2021 को रांची के कोतवाली थाने में दर्ज मामले को ईडी टेकओवर कर जांच कर सकती है।

उल्लेखनीय है कि झारखंड में हेमंत सोरेन सरकार गिराने की साजिश को लेकर रांची कोतवाली पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। कोतवाली थाना में एफआईआर के बाद अप्राथमिक अभियुक्त अभिषेक कुमार दुबे, अमित सिंह और निवारण प्रसाद महतो को जेल भेजा गया था। इससे पहले विधायकों की खरीद-फरोख्त की सूचना पर 22 जुलाई 2021 की देर रात और 23 जुलाई 2021 को पुलिस ने रांची के कई होटलों में छापेमारी की थी और तीन लोगों को गिरफ्तार किया था। बेरमो विधायक अनूप सिंह के बयान पर मामला दर्ज कार्रवाई की गयी थी।

Comments are closed.