मैरियूपोल के बाद रूस के निशाने पर लवीव, लगातार धमाके

यूक्रेन पर रूस के हमले को 54 दिन हो गए हैं। रूस की सेना लगातार हमले कर रही है और यूक्रेन की सेना बचाव की हर संभव कोशिश में जुटी है। प्रमुख शहर मैरियूपोल पर कब्जे का दावा करने के बाद रूसी सेना ने एक अन्य यूक्रेनी शहर लवीव को निशाना बनाया है। वहां लगातार धमाके किये जा रहे हैं। रूसी सेना ने यूक्रेन पर हमले के 53वें दिन यानी रविवार को मैरियूपोल पर कब्जे का दावा किया था। हालांकि यूक्रेनी सेना ने रूसी सैनिकों से लगातार मोर्चा लेने और उनका कब्जा न होने देने की बात कही थी। अब क्रीमिया के एक मानव अधिकार समूह ने आरोप लगाया है कि रूस के सैनिक मैरियूपोल से 150 बच्चों को जबरन उठा ले गए हैं। कहा गया है कि ये बच्चे अनाथ नहीं थे, फिर भी इन्हें अस्पतालों से ले जाया गया है। दावा किया गया है कि रूसी सैनिक बच्चों को किसी अज्ञात स्थान पर ले गए हैं और वहां उनका शोषण हो सकता है। इस बीच मैरियूपोल के बाद रूस की सेना ने अब यूक्रेन के शहर लवीव को निशाना बनाया है। वहां रूसी मिसाइलें लगातार हमले कर रही हैं। लवीव में सोमवार को एक साथ पांच तेज धमाके सुने गए। इसके अलावा कई अन्य स्थानों पर भी धमाकों की आवाज सुनाई दे रही है। इन 54 दिनों में रूस ने यूक्रेन के लगभग हर शहर पर हमला किया है। जान बचाने के लिए अब तक यूक्रेन के 50 लाख से अधिक नागरिक अपना देश छोड़ चुके हैं। इनमें से 28 लाख लोग पोलैंड में प्रवेश कर चुके हैं, जबकि पांच लाख यूक्रेनी नागरिकों ने हंगरी में शरण ली है। साढ़े सात लाख लोग यूक्रेन छोड़कर रोमानिया में प्रवेश कर चुके हैं।

Comments are closed.