प्रधानमंत्री ने महिलाओं से कहा-अनन्य साथी हूं, आपके साथ काम करना चाहता हूं

– प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बनासकांठा में नारी शक्ति से बातचीत की

दियोदर (बनासकांठा)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को यहां बनास डेयरी कॉम्प्लेक्स में महिला लाभार्थियों से बातचीत की। महिलाओं ने डेयरी उद्योग से हुई आर्थिक समृद्धि पर खुशी जताते हुए अपने अनुभव साझा किए। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा-‘ मैं आपका अनन्य साथी हूं। आपके साथ काम करना चाहता हूं।’ प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल भी उपस्थित रहे।

महिला लाभार्थियों ने कहा कि दूध की बिक्री से अच्छी कमाई हो रही है। आपके (नरेन्द्र मोदी) प्रधानमंत्री बनने के बाद रसोई का काम आसान हुआ है। उससे पहले लकड़ियां लेने पहाड़ियों पर जाना पड़ता था। अब सिलेंडर मिलने से खाना पकाना आसान हो गया। पहले भोजन पकाने में तीन घंटे का समय लगता था। अब 30 मिनट में भोजन पक जाता है। इन महिलाओं ने कहा कि आप जब गुजरात के मुख्यमंत्री बने तो ज्योतिग्राम योजना शुरू होने से बिजली की समस्या भी खत्म हो गई।

प्रधानमंत्री ने महिलाओं से ड्रिप सिंचाई के महत्व और इसके लाभ के बारे में बातचीत की। महिलाओं ने कहा आपने मुख्यमंत्री रहते पानी बचाओ का संदेश दिया था। अब वे इसका महत्व समझने लगी हैं। प्रधानमंत्री ने कहा आजादी के 75 वर्ष होने जा रहे हैं। सरकार हर जिले में बड़ी झील का निर्माण कराने वाली है।

महिलाओं ने बनासकांठा में कृषि के क्षेत्र में हुई प्रगतिऔर इसमें अपनी भागीदारी का जिक्र किया। महिलाओं ने खुशी जताई कि कोरोना के टीके निशुल्क लगे हैं। इसी तरह अन्य बीमारियों के टीके भी लगवाए जाएं। महिलाओं ने खुशी जताई कि अब अगर कोई पशु बीमार होता है तो 30 मिनट में एंबुलेंस उनके पास पहुंच जाती है।

प्रधानमंत्री ने महिलाओं से मधुमक्खी पालन के महत्व पर भी चर्चा की। इस अवसर पर सहकारिता राज्यमंत्री जगदीश विश्वकर्मा, शिक्षा राज्यमंत्री कीर्तिसिंह वढेला, सांसद परबत पटेल, विधायक शशिकांत पंड्या, मुख्य सचिव पंकज कुमार, इफको अध्यक्ष जीएम शामलभाई पटेल, अध्यक्ष, सीआईएन, अजय पटेल, अध्यक्ष, राज्य सहकारी बैंक और बनासदेरी के सदस्य और बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित रहीं।

Comments are closed.