डब्ल्यूएचओ के ग्रीन कारिडोर बनाने के प्रस्ताव को रूसी सेना ने किया खारिज

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध में घायलों को तत्काल मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के ग्रीन कारिडोर बनाए जाने के प्रस्ताव को रूसी सेना ने खारिज कर दिया है।

दरअसल, बुधवार को डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डॉ. टेडरास अधनोम गेबरियसस ने जेनेवा में एक प्रेस कांफ्रेंस में घायलों को चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए चिकित्सा ग्रीन कारिडोर बनाने का सुझाव दिया था। बाद में इसी तरह का सुझाव यूक्रेन की सामाजिक नीति मंत्री मार्यना लोजहना ने भी संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायोग से भी किया था। डब्ल्यूएचओ के इस प्रस्ताव को रूसी सेना ने टका सा जवाब देते हुए खारिज कर दिया है। रूसी सेना ने इस प्रस्ताव को अव्यवहारिक और अनावश्यक बताया है। रूसी सेना ने कहा है कि बम के गोले यूं ही बरसते रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि एक सप्ताह से चल रहे रूस-यूक्रेन के बीच युद्ध में हज़ारों लोग बमबारी से घायल हो चुके हैं। इन घायलों को तत्काल मेडिकल सेवाओं की ज़रूरत है। डब्ल्यूएचओ और रेडक्रास के चार्टर में इसका प्रावधान है लेकिन रूस इसका पालन करने को तैयार नहीं है।

Comments are closed.