मां छिन्नमस्तिके पर अर्पित फूल और बिल्वपत्र से बने सुगंधित गुलाल और अगरबत्ती से मनेगी होली

डीसी ने चल रहे कार्य का लिया जायजा, कर्मियों की सराहना की

इस बार की होली रामगढ़ जिला वासियों के लिए आशीर्वाद से भरी हो सकती है। यह बात कोई अतिशयोक्ति नहीं है। इस बार रजरप्पा मां छिन्नमस्तिके पर अर्पित फूल और विल्व पत्र से बने सुगंधित गुलाल और अगरबत्ती लोगों को होली मनाने के लिए उपलब्ध होंगे। बुधवार को डीसी माधवी मिश्रा जब रजरप्पा पहुंची तो उन्होंने इस कार्य का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि होली से पहले ही मां छिन्नमस्तिके पर अर्पित फूल और बिल्वपत्र से बने गुलाल बाजार में उपलब्ध होंगे। रजरप्पा में काफी तेजी से कार्य चल रहा है, जिस तरीके से स्थानीय लोग और कर्मचारी इस काम में लगे हैं वह बेहद ही सराहनीय है।

उपायुक्त ने चितरपुर बीडीओ उदय कुमार को नियमित रूप से मंदिर परिसर में हो रहे कार्यों का निरीक्षण करने का निर्देश दिया। उन्हें इस बात की भी जिम्मेवारी सौंपी गई कि गुलाल और अगरबत्ती स्थानीय बाजार में प्राइम लोकेशन पर बेचे जाएं।

रजरप्पा मंदिर परिसर एवं इसके आस पास के जल स्रोतों को स्वच्छ रखने के सॉलिड और लिक्विड वेस्ट का सही इस्तेमाल किया जा रहा है। इसी उद्देश्य से उपायुक्त माधवी मिश्रा के निर्देश पर मंदिर परिसर में इस्तेमाल किए जाने वाले फूल बिल्वपत्र इत्यादि से अगरबत्ती, गुलाल सहित अन्य सामग्रियां बनाने के लिए पहल की गई हैं।

Comments are closed.