माता-पिता को दोषी ठहराए जाने से सदन में भावुक हुई अम्बा प्रसाद

साजिश के तहत मेरे पूरे परिवार को फंसाया गया : विधायक

रांची। झारखंड विधानसभा में बुधवार को चिरुडीह कांड पर न्यायालय के फैसले के खिलाफ कांग्रेस विधायक अम्बा प्रसाद बुधवार को सदन के मुख्य द्वार पर धरने पर बैठी। बाद में स्पीकर ने विधायक इरफान अंसारी, दीपिका पांडेय और बंधु तिर्की को अम्बा प्रसाद को ससम्मान सदन में लाने का निर्देश दिया। सदन में आते ही अम्बा प्रसाद भावुक हो गयीं उन्होंने कहा कि एक साजिश के तहत उनके परिवार को फंसाया जा रहा है। कांग्रेस विधायक अम्बा प्रसाद ने कहा मामले में एक ही परिवार को दोषी ठहराया गया। क्या पूर्व विधायक निर्मला देवी के हाथ में बंदूक था, जो लोग वहां मारे गए इसकी जांच होनी चाहिये। उन्होंने पूरे मामले की जांच एग्जिस्टिंग जज से जांच कराने की मांग की।

उन्होंने कहा कि चिरुडीह में जब धरना प्रदर्शन हो रहा था तब उनकी मां निर्मला देवी धरने में बैठी थी। उस समय भड़की हिंसा में चार लोग मारे गए थे। बाद में एक सुनियोजित तरीके से एक ऐसा डायरी बना दिया गया। इससे मेरे पूरे परिवार को निशाना बनाया गया। मेरा सदन से मांग है कि एक सिटिंग जज की अध्यक्षता में पूरे मामले की जांच कराया जाये। इस पर मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि देखवा लेंगे।

Comments are closed.