सीआईडी ने 64.85 लाख की ठगी करने वाले साइबर अपराधी को दिल्ली से किया गिरफ्तार

अपराध अनुसंधान विभाग (सीआईडी) ने एचडीएफसी की डेड इंश्योरेंस पॉलिसी का पैसा वापस दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार साइबर अपराधी का नाम संदीप कुमार उर्फ संदीप सैनी बताया गया है। वह नई दिल्ली के कल्याण पुरी थाना क्षेत्र के त्रिलोकपुरी का रहने वाला है। इसके पास से एक मोबाइल फोन और एक सिम कार्ड बरामद किया गया है।

साइबर डीएसपी नेहा बाला ने रविवार को बताया कि रांची के रातू रोड निवासी ओम प्रकाश वर्मा ने शिकायत की थी कि साइबर अपराधियों ने एचडीएफसी की डेट इंश्योरेंस पॉलिसी का पैसा वापस दिलाने के नाम पर कुल 64 लाख 85 हजार 692 रुपए की ठगी की है। इस संबंध में ओम प्रकाश वर्मा ने रांची साइबर थाना में 3 मार्च 2021 को मामला दर्ज करवाया था। डीएसपी ने बताया कि अनुसंधान के क्रम में अपराधी की संलिप्तता के बिंदु पर अनुसंधानकर्ता पुलिस निरीक्षक ब्रह्मदेव प्रसाद और गठित टीम ने छापेमारी कर घटना में शामिल एक साइबर अपराधी संदीप कुमार उर्फ संदीप सैनी को नई दिल्ली से गिरफ्तार किया।

डीएसपी ने बताया कि इसका पूर्व आपराधिक इतिहास रहा है। मामले में पूर्व में रवि सिंह कुशवाहा को उत्तर प्रदेश के लखनऊ से आठ नवंबर 2021 को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। गिरफ्तार अपराधी पूर्व में मोरादाबाद (उत्तर प्रदेश) थाना से आईटी एक्ट में जेल जा चुका है और वर्त्तमान में जमानत पर मुक्त है।

गिरफ्तार किये गये साईबर अपराधी की अपराध शैली

डीएसपी ने बताया कि इस अपराध को करने के लिए साईबर अपराधी द्वारा विभिन्न फर्जी नम्बरों से लोगों को कॉल करते है और डेड इसुरेंस पॉलिसी तथा लोन दिलाने के नाम पर लोगों को प्रलोभन देकर विभिन्न बैंक खाताओं में धोखे से विश्वास में लेकर पैसे की ठगी कर लेते है।

साइबर ठगी से बचने के लिए रहे सावधान

डीएसपी ने इस तरह के अपराध से बचने का तरीका भी बताया। उन्होंने बताया कि किसी अज्ञात मोबाइल नंबर से डेड इंसुरेंस पॉलिसी का पैसा वापस दिलाने के नाम पर कॉल आने पर उनसे अपनी निजी जानकारी साझा ना करें। साथ ही डेड इंसुरेंस पॉलिसी का पैसा वापस दिलाने एवं लोन दिए जाने के नाम पर किसी प्रकार के कॉल आने पर नम्बर की जांच इंश्योरेंस कंपनी एवं संबंधित कम्पनी के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर करें।

Comments are closed.