रूस पर युद्ध विराम उल्लंघन का आरोप, मारियुपोल में गोलाबारी

-यूक्रेन का दावा, मार डाले रूस के दस हजार सैनिक -12 लाख लोगों ने छोड़ा यूक्रेन, सबसे ज्यादा गए पोलैंड

यूक्रेन पर रूस के हमले के दसवें दिन शनिवार को रूस ने विदेशी नागरिकों की निकासी के लिए युद्ध विराम का एलान किया है। अब यूक्रेन प्रशासन रूस पर युद्ध विराम उल्लंघन का आरोप लगा रहा है। यूक्रेनी शहर मारियुपोल में गोलाबारी के कारण निकासी योजना को स्थगित कर दिया गया है।

मारियुपोल के उप मेयर सर्गी ऑरलोव ने कहा है कि लोग शहर से निकलने की कोशिश कर रहे हैं तो उन पर गोलाबारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि पहले हमारे लोगों ने कहा कि कुछ देर के लिए गोलाबारी बंद होगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। रूसी सेना मारियुपोल पर बम और रॉकेट बरसा रही है। शहर पर गोलाबारी और जपोरिजिया के लिए मार्ग पर लड़ाई की वजह से लोगों को निकालना असंभव है। अधिकारियों ने कहा कि नागरिकों के लिए शनिवार को जिस निकासी की योजना बनाई गई थी, उसे स्थगित कर दिया गया है। ऐसा शहर की घेराबंदी कर रहे रूसी सैनिकों द्वारा आपसी सहमति से लागू किए गए संघर्ष विराम का सम्मान नहीं करने की वजह से करना पड़ रहा है। सिटी काउंसिल ने एक बयान में लोगों से अपने शेल्टरों में लौटने और आगे की सूचना का इंतजार करने के लिए कहा है।उन्होंने कहा कि हम पूरे निकासी मार्ग के साथ संघर्ष विराम की पुष्टि के लिए रूसी पक्ष के साथ बातचीत कर रहे हैं।

इस बीच यूक्रेन सेना की ओर से जारी आंकड़ों में दावा किया गया है कि अब तक की जंग में रूस के 10 हजार सैनिकों को मारा जा चुका है। साथ ही बड़ी संख्या में हथियारों को नष्ट किया गया है। यूक्रेन की ओर से रूस के 40 हेलीकॉप्टर्स और 269 टैंक नष्ट करने का दावा किया गया है। इस बीच रूस के हमले के बाद यूक्रेन में 12 लाख लोगों ने घर छोड़ दिया है। उन्होंने समीपवर्ती के देशों में शरण ली है। सबसे ज्यादा 6.50 लाख लोग भाग कर पोलैंड गए हैं।

Comments are closed.