रूस ने मैरियूपोल में एक लाख लोगों को बंधक बनाया

कीव। यूक्रेन पर रूसी हमले के 28वें दिन भी युद्ध जारी है। यूक्रेन का आरोप है कि रूस ने मैरियूपोल में एक लाख लोगों को बंधक बना लिया है। दूसरी तरफ रूस ने परमाणु हथियार का इस्तेमाल करने की चेतावनी दी है।

यूक्रेन पर हमले के 28वें दिन भी रूस और यूक्रेन की सेनाओं के बीच घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव समेत यूक्रेन के सभी प्रमुख शहरों पर लगातार हमले कर रही है। दरअसल रूस और यूक्रेन, दोनों में से कोई भी झुकने को तैयार नहीं है। रूस पर कोई अंतरराष्ट्रीय दबाव भी काम नहीं कर रहा है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलिदिमीर जेलेंस्की ने पुतिन के रवैये की आलोचना करते हुए कहा है कि इस माौल में रूस के साथ बातचीत कठिन है। रूस के भी तेवर सख्त बने हुए हैं।

रूस ने साफ कहा है कि यदि रूस के अस्तित्व पर खतरा मंडराया तो वह परमाणु हथियार के इस्तेमाल से पीछे नहीं हटेगा। इस बीच यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूस पर मैरियूपोल में एक लाख नागरिकों को बंधक बनाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि रूसी सैनिकों की यह घेराबंदी नरसंहार के बराबर है। एक लाख लोग बिना भोजन-पानी फंसे हुए हैं।

उन्होंने कहा कि रूस इससे पूर्व काफिले को रास्ता देने को लेकर सहमत हुआ था। हम हम मारियुपोल के निवासियों के लिए स्थिर मानवीय गलियारे बनाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन रूस ने गोलीबारी कर हमारे प्रयासों को विफल कर दिया है। यूक्रेन की उप राष्ट्रपति इरिना वेरेश्चुक ने कहा कि रूसियों ने 11 बस चालकों और चार बचावकर्मियों को उनके वाहनों के साथ कब्जे में ले लिया है।

Comments are closed.