जेजेएमपी उग्रवादियों ने पूर्व सदस्य की पत्नी और बेटी को मार डाला

घायल अवस्था में जेजेएमपी का पूर्व सदस्य भी गिरफ्तार

गुमला। झारखंड जन मुक्ति परिषद (जेजेएमपी) के उग्रवादियों ने पत्नी और दो बच्चों के साथ बाइक से एक गांव जा रहे अपने पूर्व साथी अमरजीत कुजुर पर घात लगाकर गोलियों की बौछार कर दी। इस गोलीबारी में अमरजीत की पत्नी नेहा नीति कुजुर (30) और उसकी तीन साल की बेटी अनन्या मारी गई। यह घटना सोमवार रात करीब आठ बजे जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत कंचन नाला मोड़ के पास हुई।

अमरजीत का पांच वर्षीय पुत्र अनुज कुजूर रातभर मां और बहन के शव के पास बैठकर रोता रहा। घटना की सूचना मिलते ही अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सिरिल मरांडी, इंस्पेक्टर बैजू उरांव व थाना प्रभारी केके गुप्ता पुलिस बल के साथ घटनास्थल पहुंचे और दोनों शवों को थाना ले आए। पुलिस को सूचना मिली कि घायल अमरजीत कुजुर जनावर गांव में छिपा हुआ है। चैनपुर पुलिस ने छापेमारी कर अमरजीत कुजुर को गिरफ्तार कर लिया।

उल्लेखनीय है कि अमरजीत कुजुर ने साथियों के साथ मिलकर पूर्व में जेजेएमपी सुप्रीमो सुकरा उरांव की हत्या कर दी थी। संगठन का हथियार लेकर भागने के बाद अमरजीत और उसको साथियों ने एक अलग संगठन बना लिया है। मगर जेजेएमपी उग्रवादी इनके पीछे हाथ धोकर पड़े हुए थे। आखिरकार सोमवार को इनको मौका मिला भी तो अमरजीत कुजुर जान बचाने में सफल रहा। अमरजीत पत्नी और बच्चों को गुमला में एक किराए के मकान पर रखा था। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

Comments are closed.