यूक्रेन पर संयुक्त राष्ट्र में भारत की अपील तनाव कम करें वरना स्थिति बड़े संकट में बदल सकती है

भारत ने रूस और यूक्रेन के बीच सैन्य संघर्ष से उपजे तनाव को तत्काल कम करने की अपील करते हुए कि ऐसा नहीं होने पर स्थिति एक बड़े संकट में बदल सकती है।

रूसी राष्ट्रपति ने यूक्रेन पर सैन्य कार्रवाई की घोषणा कर दी है। रूसी कार्रवाई के बीच संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने आपातकालीन बैठक की है। सुरक्षा परिषद की बैठक में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस त्रिमूर्ति ने एक बार फिर दोहराया की भारत सैन्य तनाव की स्थिति को जल्द से जल्द कम करने की अपील करता है। हमारा मानना है कि सभी मुद्दों का समाधान कूटनीति के जरिए होना चाहिए।

भारत ने मौजूदा तनाव की स्थिति को हल्का करने के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रयासों पर ध्यान नहीं दिए जाने पर खेद व्यक्त किया। त्रिमूर्ति ने खेद व्यक्त करते हुए कहा कि तनाव को दूर करने के लिए विभिन्न पक्षों की हालिया पहलों को समय देने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के आह्वान पर ध्यान नहीं दिया गया।

त्रिमूर्ति ने कहा कि परिस्थिति के एक बड़े संकट बनने का खतरा बना हुआ है। मौजूदा घटनाक्रम को लेकर भारत बहुत चिंतित है। परिस्थितियों को शीघ्र ही ठीक नहीं किया गया तो क्षेत्र की शांति और सुरक्षा खतरे में पड़ जाएगी।

भारतीय प्रतिनिधि ने इस बात पर जोर दिया कि सभी पक्षों के जायज सुरक्षा हितों पर पूरी तरह से ध्यान देना चाहिए। इस दिशा में बड़े स्तर पर प्रयास किए जाने चाहिए। भारत हमेशा से अंतरराष्ट्रीय कानूनों और आपसी समझौतों के तहत विवादों के समाधान का पक्षधर रहा है।

उल्लेखनीय है कि रूस ने बड़ी संख्या में यूक्रेन की सीमा पर सैन्य तैनाती की है। रूसी राष्ट्रपति ने आज यूक्रेन पर सैन्य कार्रवाई के आदेश दिए हैं। इसके बाद से यूक्रेन में सुरक्षा और मानवीय संकट पैदा हो गया।

Comments are closed.