बेस्राजारा में मॉब लिंचिंग के लिए पुलिस जिम्मेदार : बाबूलाल

सिमडेगा। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी आज कोलेबिरा थाना इलाके के मॉब लिंचिंग घटनास्थल बेस्राजारा पहुंचे। वे मृतक संजू प्रधान की पत्नी पूनम देवी और उनके परिजनों से मिले।

परिजनों से पूरी घटनाक्रम की जानकारी लेने के बाद बाबूलाल मरांडी ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा कि जिस प्रकार से घटना घटी है उसके लिए पूरी तरह से पुलिस को जिम्मेदार ठहराना चाहिए। तत्काल सिमडेगा के एसपी और ठेठईटांगर के थाना प्रभारी को बर्खास्त किया जाना चाहिए। पुलिस की मौजूदगी में और देखरेख में इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। पुलिस मोबाइल से वीडियो बनाती रही ।

बाबूलाल मरांडी ने यह भी कहा कि घटना में शामिल होने के आरोप में जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है वह बिल्कुल बेकसूर है उन्हें तत्काल रिहा किया जाए। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि पीड़ित परिवार के द्वारा दिए गए बयान के आधार पर आरोपितों की गिरफ्तारी पुलिस नहीं कर रही है। पूरे घटना को अलग मोड़ देने का प्रयास किया जा रहा है। बाबूलाल मरांडी ने यह भी कहा कि झारखंड सरकार से उन्हें तो न्याय की उम्मीद है ही नहीं किंतु वे सीबीआई जांच की मांग करते हैं। साथ ही कहा कि चाहे जितना दिन लग जाए वे इस मामले की सीबीआई जांच करा कर रहेंगे और परिवार को न्याय दिला कर रहेंगे ।

Comments are closed.