सिमडेगा में मॉब लिंचिंग मामले में चार और आरोपित गिरफ्तार

सिमडेगा। कोलेबिरा थाना क्षेत्र अंतर्गत बेसराजारा गांव में संजू प्रधान की मॉब लिंचिंग के मामले में शनिवार को सदर थाना और ठेठईटांगर पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर चार और आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इसमें सूरत डांग, लोबन डांग, सूरसेन मुंडू और रेयाजन जोजो शामिल हैं। इससे पहले इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था। अब तक इस मामले में कुल सात लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

सदर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर दयानंद कुमार के नेतृत्व में चलाए जा रहे छापामारी अभियान में नामजद अभियुक्तों को अलग-अलग जगहों से पकड़ा गया है। सभी गिरफ्तार आरोपी ठेठईटांगर थाना क्षेत्र के बम्बलकेरा गांव के रहने वाले हैं। पुलिस अधीक्षक डा. शम्स तब्रेज ने कहा कि सभी आरोपितों की गिरफ्तारी होने तक कार्रवाई जारी रहेगी। उल्लेखनीय है कि गत चार नवंबर को साखू का पेड़ काटकर लकड़ी की चोरी करने के आरोप में पहले ग्रामीणों ने युवक को जमकर पीटा फिर जिंदा जला दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री पहुंचे पीड़ित परिवार से मिलने
झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास शनिवार को सिमडेगा के बेसराजारा पंहुचे। उन्होंने भीड़ की हिंसा में मरने वाले युवक संजू प्रधान के परिजनों से मिलकर घटना की जानकारी ली। उन्होंने पीड़ित परिवार को एक लाख रुपये का चेक सौंपा। साथ ही कहा कि इस वर्तमान हेमंत सोरेन सरकार में आदिवासियों और दलित समाज के लोगों पर अत्याचार हो रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.